Ganesh ji ki aarti : जय गणेश जय गणेश जय गणेश देवा।

Ganesh ji ki aarti

 

जय गणेश जय गणेश जय गणेश देवा।

माता जाकी पार्वती पिता महादेवा || 

एक दन्त दयावंत चार भुजाधारी | 

माथे पर तिलक सोहे मूसे की सवारी || 

जय गणेश जय गणेश देवा ………..

पान चढ़े फल चढ़े और चढ़े मेवा | 

लड्डुअन का भोग लगे संत करे सेवा ||

जय गणेश जय गणेश देवा ………

अंधन को आँख देत कोढ़िन को काया | 

बांझन को पुत्र देत निर्धन को मांया || 

जय गणेश जय गणेश देवा। ………

सुर श्याम शरण आये, सफल कीजे सेवा | 

माता जाकी पार्वती पिता महादेवा || 

जय गणेश जय गणेश देवा ………..

दीनन की लाज रखो शंभु सुतकारी | 

कामना को पूर्ण करो जाऊं बलिहारी || 

जय गणेश जय गणेश देवा ………..

जय गणेश जय गणेश देवा | 

माता जाकी पार्वती पिता महादेवा ||

 

 

Click here to read shiv chalisa 

Click here to read Durga chalisa 

 

 

Leave a Comment

error: Content is protected!!