हनुमान जी को प्रसन्न करने के उपाय

हिन्दू धर्म में पूजे जाने वाले सभी देवी देवताओं में से हनुमान जी का विशेष स्थान है | हनुमान जी की पूजा सबसे आसान मानी जाती है और हनुमान जी सबसे जल्दी प्रसन्न होने वाले देवता है | माना जाता है की जो भी व्यक्ति सच्चे मन से हनुमान जी का नाम लेता है और इनकी पूजा करता है उस पर हनुमान जी जल्दी प्रसन्न हो जाते है और उसे जीवन में आने वाले कष्टों को हर लेते है और उनकी समस्त मनोकामनाओ को पूरा करते हैं | आइये जानते हैं की कैसे करे हनुमान जी को प्रसन्न करने के उपाय। …………

मनोकामना पूर्ति के हनुमान जी के उपाय

1 ) हनुमान जी को प्रसन्न करने का सबसे आसान तरीका है एक बार दिन में श्री रीम जी का नाम लेना चाहिए जो भी व्यक्ति श्री राम जी का नाम जपता है उस पर हनुमान जी की विशेष कृपा होती है |

2 ) जो भी हनुमान भक्त प्रतिदिन नियमित रूप से हनुमान चालीसा और बजरंग बाण का पाठ करता है हनुमान उस पर जल्दी खुश होते है और अपनी कृपा बरसाते हैं |

3 ) मंगलवार और शनिवार के दिन हनुमान जी की पूजा का विशेष महत्व माना जाता है | मंगलवार और शनिवार के दिन बूंदी के लड्डू चढ़ाने से हनुमान जी जल्द प्रसन्न होते है |

4 ) हनुमान जी को सिंदूरी भी कहा जाता है क्यूंकि हनुमान जी को सिंदूर बहुत प्रिय है ऐसे में जो भक्त उन्हें सिन्दुर अर्पित करता हैी उस पर हनुमान जी की विशेष कृपा बरसती है, मंगलवार के दिन हनुमान जी की प्रतिमा के समक्ष बैठ राम नाम का 108 बार जाप करे क्यूंकि हनुमान जी रामजी के अन्यन भक्त हैं, इसलिए जो भी श्रीराम की भक्ति करता है उन पर हनुमान जी की कृपा हमेशा  है |

5 ) शनिवार की शाम हनुमान जी के मंदिर में जाएँ एक सरसों के तेल का और एक शुद्ध घी का दीपक जलाएं |  वहीँ बैठकर हनुमान चालीसा का पाठ करें हनुमान जी कृपा पाने का ये अचूक उपाय है |

6 ) जीवन की समस्त समस्याओं के निवारण के लिए शनिवार की शाम हनुमान जी के मंदिर में जाएँ और राम रक्षा स्तोत्र का जाप करें |

7 ) यदि कोई व्यक्ति धन की तंगी का सामना  कर रहा है तो उसे हर मंगलवार और शनिवार को पीपल के 11 पत्तों का यह उपाय अपनाना चाहिए | ब्रम्ह मुर्हत में उठें और इसके बाद नित्य कर्मों से निवृत होकर किसी पीपल के पेड़ से 11 पते तोड़ ले और ध्यान रखे की पते टूटे हुए न हो या खंडित नहीं होने चाहिए | इन 11 पत्तों पर स्वच्छ जल में कुमकुम या अष्टगंध या चन्दन मिलाकर इससे श्री राम का नाम लिखे, नाम लिखते समय हनुमान चालीसा का पाठ करें | जब सभी पत्तों पर श्री राम लिख ले उसके बाद राम नाम  लिखे हुए इन पत्तों की एक माला बनाये, इस माला को किसी भी हनुमान जी मंदिर में जाकर हनुमान जी  को अर्पित करे | इस प्रकार यह उपाय करते रहें कुछ समय में सकारत्मक परिणाम प्राप्त होंगे |

 

Leave a Comment

error: Content is protected !!